DM Full From in Hindi- डियम कैसे बने ?

DM full from in Hindi,डियम कैसे बने,dm full from,full from of dm,dm full from in government in hindi,dm ka full from, डियम बनने के लिए कौनसा पढाई करना होता है,dm full from,what is the full from of dm,dm full from government service, अगर आप इन सब सवाल के जवाब जानना चाहते है |

तो आपको इस लेख को सुरु से लेकर आखरी तक पढ़ना होगा क्योकि मैंने इस लेख में आपको DM full from in hindi से जुडी सारी जानकरी दी है. ताकि आपको कोई और लेख पढ़ने की जरुर ना पड़े, तो चलिए जानते है DM ka full from क्या होता है ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए |

DM Full From in Hindi- डियम कैसे बने

DM Full From in Hindi-डियम का हिंदी में मतलब

तो चलिय दोस्तों सबसे पहले हम DM का फुल फ्रॉम जानते है “District Magistrate” DM Full From in English होता है अगर हम डीएम का हिंदी में अर्थ देखे तो “जिला मजिस्ट्रेट” DM Full From in Hindi होता है, इसे सॉर्ट में DM भी कहते है |

जिला का मुख्य कार्यकारी और प्रसानिक और राजस्व अधिकारी होता है , डीएम का जो कार्य रहता है वो कानून व्यवस्था को बनाए रखना है | जिस भी डिस्टिक में पोस्टेट है उस डिस्टिक की वार्षिक रिपोस्ट की जाती है जैसे की कोई भी घटना घट रही है या फिर अपराथ किये जा रहे है उसकी एक रिपोर्ट तैयार करके सरकार देना होता है |

पुलिस और जेलों का निरक्षण करना और अदीनस्त कार्यकारी मजिस्ट्रेटो का निरक्षण करना,अपराध प्रक्रिया सहिता के निवारण खण्ड में सबन्धित मुकदमो की सुनवाई करना,मृत्यु दण्ड के कानवेन को प्रमाणित करना आदि कार्य होते है |

DM बनने के लिए योगता

दोस्तों अगर आप डीएम बनना चाहते है तो आपको मिनिमम Qualification Graduation जरुरी है . किसी भी Discipline से आप किसी भी Subject से है मान लीजिये आप Art Subject से है, या फिर Science Subject से है, या फिर आप किसी भी सब्जेक्ट से आपने Graduation Complete कर लिया है |

तो आप DM बन सकते है इसके लिए जो Exam होता है वो आप एग्जाम दे सकते है . तो आपका ग्रेजुएशन जरुरी है . बहोत से स्टूडेंट 12वी या फिर 10वी क्लास से ही अपना Goal बना लेते है की मुझे DM ही बनाना है . DM बनने के लिए आपको बहोत ज्यादा मेहनत करना होता है . चलिए जानते है डीएम बनने के लिए आपकी उम्र कितनी होनी चाहिए |

डीएम बनने के लिए आयु सीमाFull from of dm

DM Full From in Hindi- डियम कैसे बने

चलिए जानते है डीएम बनने के लिए आपकी उम्र कितनी होनी चाहिए या फिर आपकी Age Limit क्या होनी चाहिए |

प्यारे Student इसमे जो Age Limit है 21 से 32 साल Graduation के बाद होता है, इस लिए मिनिमम Age 21 साल है और maximum 32 साल है ये General Category के लिए है | लेकिन अगर आप रिजर्व Category से है या फिर ब्लोंग करते है |

तो आपको इसमे रिलेक्सेशन दिया जाता है जैसे OBC Candidate के लिए 35 साल है Upper Age Limit है , और अगर बात करे ST/SC की Age Limit की तो 37 साल upper Age Limit रखा गया है |

डीएम का एग्जाम आप कितनी बार दे सकते है ?

अगर आप डीएम बनना चाहते है तो आपको ये भी पता होना चाहिए की डीएम का एग्जाम हम कितनी बार दे सकते है . तो चलिए जानते है

  • अगर आप General Category से है तो आप 6 बार डीएम का एग्जाम दे सकते है . अपनी upper Age के साथ यानी की 35 साल के अन्दर |
  • आप OBC Category से है तो आप डीएम का एग्जाम 9 बार दे सकते है अगर आप 5 साल क्रास नहीं करते है तो जो आपका Age Limit है उसी के अन्दर आपको ये एग्जाम देने का मौका मिलाता है |
  • अगर हम SC/ ST Category के लिए देखे तो इनके लिए Unlimited है Over Age होने तक पुरे 37 साल जब तक आप अपना Age क्रोस नही कर लेते है | आप डीएम का जितना बार चाहे उतना बार एग्जाम दे सकते है |

डीएम बनने के लिए कौनसा एग्जाम देना होता है ?

डीएम बनने के लिए आपको UPSC का Exam देना होता है , इसके लिए आपको UPSC के द्वारा एग्जाम Connect कराया जाता है . CSE (Civil Service Exam) आपको देना होता है उसके बाद ही आप DM बनते है . अगर आप डीएम बनना चाहते है तो UPSC के द्वारा ही एग्जाम कनेक्ट कराया जाता है |

लेकिन आप डायरेक्ट डीएम नही बनते है . जब आप ये एग्जाम देते है तो ये एग्जाम क्लियर करने के बाद आप इसमे IAS Officer बनते है | IAS जो रहते है वो बाद में प्रमोट होते है . प्रमोट होने में 2 से 3 तिन साल लगता है या फिर आपका जो Duration रहता है 2 साल का या फिर 5 साल का उसके बाद ही आप प्रमोट होते है |

Pramotion के बाद ही आप DM बनते है , जो IAS ऑफिसर होते है वही आगे जाके डीएम बनते है . अगर आप डीएम बनना चाहते है तो आपको IAS का एग्जाम देना पड़ता है, उसके बाद आपको IAS ऑफिसर बनना होता है उसके बाद आप DM बन जायेंगे

डीएम परीक्षा पैटर्न- dm exam pattern

डीएम बनने से पहले आपको IAS का एग्जाम देना होता है और डीएम से पहले आपको IAS बनना पड़ता है उसके बाद ही आप डीएम बन सकते है डीएम का एग्जाम पैटर्न 3 स्टेप में होते है | जैसे की मैंने आपको अभी उपर बताया की सबसे पहले आपको UPSC द्वारा कराये गए CSE परीक्षा में सामिल होना होता है और उसे clear करना होता है |

  1. Prelims Exam (प्रारभिक परीक्षा)
  2. Mains Exam (मुख्य परीक्षा)
  3. Interview (साक्षात्कार)

प्रारंभिक परीक्षा क्लियर करने के बाद आप मैंन एग्जाम दे सकते है मैंन एग्जाम जब आप क्लियर कर लेते है तो आपको इन्टरव्यू के लिए कॉल किया जाता है , और जब आप इन्टरव्यू क्लियर कर लेते है उसके बाद में आपको ट्रेनिंग दी जाता है | उसके बाद आप एक IAS Officer बनते है | और जैसा की मैंने आपको ऊपर बताया की प्रमोट होते है , कुछ समय के बाद आप डीएम बन जाते है |

चलिए इसे हम स्टेप बाई स्टेप जानते ये तीनो एग्जाम के बारे में –

Prelims Exam (प्रारभिक परीक्षा)- what is the full from of dm

प्रारभिक एग्जाम में दो पेपर रहते है , जिसमे General Studies का रहता है 200 मार्क का रहेगा General Studies आपका जिस तरह से Question किये जाते है IAS के जो एग्जाम रहते है |

उसी टाइप से आपका General Studies करेंट अफेयर्स इसी तरह से Question आएगा उसमे साथ में C सैट पेपर होता है इसको क्लियर करने के बाद आप मैंन एग्जाम देते है |

Mains Exam (मुख्य परीक्षा)- Full from of dm in hindi

मैंन एग्जाम में आपके 9 पेपर होते है जिसमे Language Paper 2 रहते है जिसमे से एक इंग्लिश रहता है जो कांफल्सरी है, और जो दूसरा Language Paper जो रहता है वो आपके ऊपर रहता है जिसमे से आप कोई भी एक Language चुन सकते है |

इसके बाद आपके General Studies 4 पेपर होते है , General Studies में वही आपका करेंट अफेयर्स जनरल नोलेज आपसे की जाती है . General Studies का जो 4 पेपर रहता है आपको उसे देना पड़ता है उसके बाद आपको Essay का एग्जाम देना होता है |

जिसमे आपको Essay रिटर्न राईट करना रहता है , Essay क्लियर करने के बाद आपको एक और लास्ट पेपर होता है उसका नाम Optional Paper इसमे 2 पेपर होते है Optional रहते है जिसमे आप अपने choice के एकोडिंग के Subject को choose किया जाता है |

जिसमे आपको ज्यादा ज्ञान हो या फिर ज्यादा नालेज हो या फिर जिसमे आपने Graduation किया है आप वही सब्जेक्ट choose करेंगे , क्योकि उसमे आपकी नालेज अच्छी होगी |

Interview (साक्षात्कार)

प्री एग्जाम और मैंन एग्जाम क्लियर करने के बाद आपको इन्टरव्यू के लिए कॉल किया जाता है , इन्टरव्यू आपका लिया जाता है इन्टरव्यू की जो मार्किंग रहती है . मैंन एग्जाम की जो मार्किंग रहती है दोनों को मिलाकर फाइनल मेरिट तैयार की जाती है |

तो दोस्तों कुछ इस प्रकार से आपको Select किया जाता है एक IAS ऑफिसर बनने के लिए , उसके बाद आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है और आपको ट्रेनिंग दी जाती है , ट्रेनिंग क्लियर करने के बाद आपको DM के लिए प्रमोट किया जाता है |

डीएम की सैलेरी-dm salary in india

चलिए दोस्तों अब हम ये भी जान लेते है की डीएम की सैलेरी कितनी होती है , सैलेरी District Magistrate की काफी अच्छी रहती है और फैसलिटिज भी काफी दी जाती है | अगर सैलेरी हम देखे तो एक डीएम की सैलेरी लगभग 80 हजार से 1 लाख के करीब होता है |

ये सैलेरी Stating की होती है जो की हर महीने की ये सैलेरी होती है इसके अलावा फैसलिटिज भी रहती है, रहने के लिए बंगला,गाड़ी आदि फैसलिटिज दी जाती है सैलेरी जो डीएम की रहती है वो अच्छी खासी रहती है |

डीएम के कार्य-dm ke karya kya hai

अगर आप डीएम बन जाते है तो आपको कुछ कार्य भी करना पड़ता है चलिए जानते है डीएम का क्या कार्य होता है –

  • डीएम अपने जिला में कानून व्यवस्था बनाये रखता है
  • हर वर्ष अपराध का रिपोर्ट सरकार को देता है
  • पुलिस और जेलों का निरक्षर करने का कार्य करता है
  • अपने निचे कार्य करने वाले अधिकारियो पर नजर रखता है

डीएम बनने के फायदे-DM Full From in Hindi

दोस्तों एक डीएम को बहोत ज्यादा फायद होता है सबसे ज्यादा फायदा ये होता है की जब आप डीएम बन जाते है तो आपको बहोत ज्यादा सम्मान और इज्जत दी जाती है |

और आपकी हर महीने का सैलेरी 1 लाख हो जाती है आपको सरकार के द्वारा बहोत से सुभिधा फ्री में दी जाती है |

दोस्तों ये रहा कुछ डीएम बनने के बाद फायद और जो फायद होता है उसे आप जब डीएम बन जायेंगे तो आपको वो सब फायद मिलाना स्टार्ट हो जाएगा तो आपको सब पता चल जाएगा की डीएम बनने के बाद क्या फायदा होता है |

डीएम क्या है-dm kya hota hai

दोस्तों डीएम का फुल फ्रॉम “District Magistrate” जिसे हिंदी में जिला अधिकारी कहा जाता है | ये एक IAS ऑफिसर होते है जो पुरे जिले का नेतृत्व करता है .

यसडीएम क्या है-sdm kya hota hai

एक जिले को कई भागो में बिभाजित किया जाता है और प्रतेक सबडीजवन का नेतृत्व एक SDM के द्वारा किया जाता है , जो कार्य एक जिले के लिए डीएम करते है वही काम उस जिले के सबडीजवन के लिए SDM करता है |

DM और SDM में अंतर

डीएम का फुल फ्रॉम “District Magistrate“यानि की जिला अधिकारी DM Full From in Hindi होता है | और SDM का फुल फ्रॉम Sub Divisional Magistrate होता है |

एक जिले का नेतृत्व डीएम करता है और जिले के उपखंड का नेतृत्व SDM करता है , SDM का प्रमोसन होकर DM बन सकता है , SDM DM से छोटे पोस्ट होती है |

डीएम कैसे बने-full from of dm

डीएम कैसे बने-full from of dm

दोस्तों डीएम बनने के लिए उम्मीदवार को UPSE में होने वाली Civil Service Exam पास करनी होती है, इसके लिए आपका IAS के लिए चैन किया जाता है इसके बाद आप IAS अधिकारी बनते है | और प्रमोसन होने पर IAS अधिकारी को डीएम बनाया जाता है |

SDM कैसे बनेHow to become SDM

दोस्तों SDM बनने के लिए मै आपको दो तरीके बताऊंगा पहला तरीका ये है की Graduation कम्पलीट होने के बाद उम्मीदवार State PCS Exam के लिए अप्लाई कर सकता है |

SDM बनने के दुसरे तरीके की बात करे तो आप UPSE Civil Service Exam के अंतर्गत भी आप SDM बन सकते है . इसके लिए उम्मीदवार को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्व विद्यालय किसी भी स्ट्रीम में Graduation पास होना चाहिए | उसके बाद आप UPSE Civil Service Exam के लिए अप्लाई कर सकते हो |

SDM के कार्य

अपने जिले का भूमि का लेखा-जोखा SDM के देख रेख में होता है , यसडीएम के उपखण्ड के सभी तहसीलदारों पर प्रतक्ष नियन्त्रण होता है | इसके अतरिक्त विवाह रजिस्ट्रेशन आदि प्रकार के पंजीकरण और अनेक प्रकार के लाइसेंस जारी करवाना,दैविक आपदा आदि से प्रभावित व्यक्तियों को सहायता उपलब्थ करवाना होता है |

OPD FULL FROM IN HINDI
API FULL FROM IN HINDI
कैब फुल फ्रॉम हिंदी
SSC FULL FROM IN HINDI
AM PM FULL FROM
TRP FULL FROM IN HINDI
PWD FULL FROM IN HINDI
ISI FULL FROM IN HINDI
BA FULL FROM IN HIND
IT FULL FROM IN HINDI
ETC FULL FROM IN HINDI
IIT FULL FROM IN HINDI
ATM FULL FROM IN HINDI
MLA FULL FROM IN HINDI
UPS FULL FROM IN HINDI
CCC FULL FROM IN HINDI

FAQs-DM Full From in Hindi

आपने क्या सिखा

दोस्तों आपने इस लेख में DM full from in Hindi,डियम कैसे बने,dm full from,full from of dm,dm full from in government in hindi,dm ka full from,आपने ये सब जाना |

दोस्तों मुझे उम्मीद है मेरे द्वारा लिखी गई लेख से आपको डीएम से जितने भी रिलेटेड जानकरी है आपको मिल गई होगी अगर आपको ये लेख अच्छा लगा होगा तो आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे |

अगर आपको ऐसा ही लेख पढ़ना पसंद है तो आपको इस ब्लॉग पर ऐसे बहोत से लेख मिल जायेंगे आप जाके पढ़ सकते है चलिए मिलते है एक और लेख के साथ |

Leave a Comment